Advertisement

साइकोलॉजी मीनिंग, प्रकार, प्रयोग एवं फायदे

Meaning of Psychology in Hindi: मानव का मष्तिष्क एक पेचीदा सिस्टम है, इसके काम करने का तरीका और उसका इंसानों के शरीर और व्यवहार पर प्रभाव को जानना हमारे लिए बहुत जरूरी है. यही पर psychology काम आती है. साइकोलॉजी का हिन्दी अर्थ मनोविज्ञान होता है. मानवीय मष्तिष्क, उसके व्यवहार, कार्य-पद्धति और विकास प्रक्रिया के अध्ययन को साइकोलॉजी कहा जाता है. 

मनोविज्ञान (साइकोलॉजी) क्या है? Meaning of Psychology in Hindi

परिभाषा: साइकोलॉजी, मानव मस्तिष्क और उसके कार्यों के अध्ययन का वैज्ञानिक तरीका है. विकिपीडिया के अनुसार साइकोलॉजी दिमाग और व्यवहार की विज्ञान है. यह मनुष्य की चेतना और अवचेतना अवस्थाओं का अध्ययन है.

अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन के अनुसार मनोविज्ञान (Psychology) एक विस्तृत विषय है जिसमें इंसानी मस्तिष्क, उसके कार्य करने के तरीके, इंसानी व्यवहार, सोच, भावनाओं, स्वास्थ, जैसे अनेक विषयों का अध्ययन शामिल है.

Meaning of Psychology in Hindi
Psychology Definition in Hindi

शब्द के तौर पर Psychology दो शब्दों, Psyche और Logy से मिलकर बना है. Psyche का अर्थ होता है ‘दिमाग से संबंधित’ और Logy का अर्थ होता है ‘अध्ययन’. इस तरह से दिमाग सबंधी अध्ययन और अनुसंधान को साइकोलॉजी कहा जाता है. 

यहाँ पढ़ें: साइकोलॉजी से जुड़े 75 रोचक तथ्य

मोनोविज्ञान का अध्ययन करने वाले लोगों को साइकोलॉजिस्ट (मनोवैज्ञानिक) कहा जाता है और मनोवैज्ञानिक बामारियों का इलाज करने वाले डॉक्टर को मनो-चिकित्सिक (Psychiatrist) कहा जाता है. 

मनोविज्ञान के प्रकार | Types of Psychology in Hindi

जैसा कि ऊपर बताया है कि मनोविज्ञान एक विस्तृत विषय है और क्षेत्र विशेष के गहन अध्ययन के लिए साइकोलॉजी को कई विषयों में बांटकर देखा जाता है. यहाँ हमने मनोवैज्ञानिक अध्ययन की कुछ विशेष शाखाओं के बारे मैं बताया है.

  • पर्सनल साइकोलॉजी: मनोविज्ञान की इस शाखा में इंसान के व्यक्तित्व, सोचने के तरीकों, व्यवहार में बदलाव और इसके कारणों जैसे विषयों पर अध्ययन और रिसर्च किया जाता है.
  • सोशल साइकोलॉजी: इस शाखा में इंसानों के एक बड़े समूह या पूरे समाज के विकास, व्यवहार, सोच, इत्यादि के पैटर्न को समझने की कोशिश की जाती है.
  • जैविक मनोविज्ञान: साइकोलॉजी की इस शाखा में यह अध्ययन किया जाता है कि शरीर में जैविक बदलाव और जैविक प्रक्रियाएं हमारे दिमाग को कैसे प्रभावित करती हैं.
  • क्लिनिकल साइकोलॉजी: यह साइकोलॉजिकल स्टडी दिमागी बीमारियों और मानसिक रोगों को समझने और उनका इलाज करने में सहायक होती है.
  • संज्ञानात्मक (Cognitive) साइकोलॉजी: मनोविज्ञान की इस शाखा में मनुष्य के सोचने के तरीकों, निर्णय लेने के तरीकों, यादों और समस्या सुलझाने के पैटर्न के बारे में अध्ययन किया जाता है. 
  • कुछ अन्य साइकोलॉजी की शाखाएं हैं: फॉरेंसिक साइकोलॉजी, इंडस्ट्रियल साइकोलॉजी, तुलनात्मक मनोविज्ञान, इत्यादि.

यहाँ पढ़ें: प्यार के बारे में रोचक तथ्य

मनोविज्ञान के प्रयोग

साइकोलॉजी अध्ययन और रिसर्च का सबसे सटीक प्रयोग मानसिक रोगों को समझने और उनके इलाज के विकास में किया जाता है. इसके साथ ही इंसानी दिमाग को समझकर उसे अन्य कामों के लिए भी प्रयोग में लाया जता है. जैसेः

  • मार्केटिंग कैंपेन बनाने में
  • सामजिक स्तर पर कार्यक्रमों के संचालन में
  • मष्तिष्क संबंधी रोगों को समझने में
  • इंसानी शरीर की कार्य-विधि समझने में.
  • स्वास्थ संबंधी योजनाएं और उपकरण विकसित करने में.
  • बाल विकास को समझने में.

मनोवैज्ञानिक अध्ययन के फायदे

इंसान के दिमाग और उसके काम करने के तरीकों को समझने के बहुत सारे फायदे हैं. कुछ फायदे हमने यहाँ दिए हुए हैं.

  • साइकोलॉजी की सहायता से मनो विकारों और पागलपन को समझने में सहायता मिलती है.
  • दिमाग के काम करने के तरीके जानकर उसके विकास के अनुसंधान में मदद मिलती है.
  • बड़ी-बड़ी कम्पनीज लोगों के खरीद-फरोख्त संबंधी आदतों के आधार पर अपने प्रोडक्ट और उनके प्रमोशन के तरीके बनाती हैं.
  • अपराधियों और आतंकवादियों के समूह का मनोवैज्ञानिक अध्ययन करके उनके खिलाफ बेहतर रणनीति तैयार करने में.
  • लोगों की कमजोरियाँ जानकार उन्हें मनोवैज्ञानिक रूप से मजबूत करने में.

यहाँ पढ़ें: LOVE का फुल फॉर्म क्या होता है?

Psychologist और Psychiatrist में क्या अंतर होता है?

Psychologist और Psychiatrist दोनों का ही काम इंसानी दिमाग को समझना और उससे जुड़े रोगों या समस्याओं को ख़त्म करना होता है. एक साइकोलॉजिस्ट , किसी इंसान के तौर-तरीकों, व्यवहार, सोचने के तरीकों, आदि के अध्ययन की सहायता से उसे इनमें बदलाव के लिए प्रेरित करने और सुझाव देने का काम करता है.

साइकेट्रिस्ट, मनोचिकित्सक को कहा जाता है जो मानसिक रोगों से निजात दिलाने के लिए इलाज करता है और दवाइयों का सुझाव देता है.


इस पोस्ट में हमने आपको साइकोलॉजी का मतलब, उसके प्रकार और मनोविज्ञान की स्टडी (About Psychology in Hindi) से होने वाले फायदों के बारे में बताया है. अगर, आप साइकोलॉजी से रिलेटेड कुछ भी जानना चाहते हो तो आप हमें कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हो.

Reference/Source

Topics: Human Psychology in Hindi, Meaning of Psychology in Hindi, Types of Psychology in Hindi

Advertisement
Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
Copyright Content.
Close