कोरोना वायरस क्या है? कोरोना वायरस के लक्षण, बचाव और उपचार

दुनिया के कई देश इस समय कोरोना वायरस (Coronavirus) की बीमारी से जूझ रही है. भारत और चाइना सहित अनेकों देश इस वायरस से फैलने वाली बीमारी की चपेट में आ गए हैं. तिब्बत को छोड़कर चीन के लगभग सभी प्रांतों के अंदर कोरोना वायरस से ग्रसित मरीज़ पाए गए हैं. भारत के केरल राज्य में भी इस वायरस से इन्फेक्टेड पहला केस सामने आया है.

अब तक चीन में लगभग 200 से ज्यादा लोगों की मौत Coronavirus के इन्फेक्शन की वजह से हो गई है और लगभग 8000 से ज्यादा लोगों के इस वायरस से इन्फेक्टेड होने की पुष्टि हुई है. पूरी दुनिया में बड़ी तेजी के साथ इस वायरस से फैलने वाली बीमारी के मरीज़ सामने आ रहे हैं. दुनिया के अन्य देशों जैसे थाईलैंड, अमेरिका, दक्षिण कोरिया, मलेशिया, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, जापान आदि में भी इस वायरस से ग्रसित मरीज़ों के मामले सामने आए हैं.

WHO (विश्व स्वास्थ संगठन) ने इस बीमारी की गंभीरता को देखते हुए अपनी तरफ से कोरोना वायरस को अंतर्राष्ट्रीय आपात-काल घोषित कर दिया है. इस वायरस से बचने के लिए अभी तक किसी भी तरह के इलाज या टीके की खोज नहीं हो पाई है.

लास्ट अपडेट: 31/Jan/2020 |

कोरोना वायरस (Coronavirus) क्या है?

Coronavirus का सम्बन्ध एक ऐसी वायरस फैमिली से है जिसके संक्रमण द्वारा जुकाम और सांस संबंधी समस्या पैदा हो जाती है. इस वायरस से संक्रमण के बाद मरीज़ को निमोनिया होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं. WHO  के अनुसार इस वायरस के संक्रमण से बुखार, ज़ुकाम, खांसी, सांस लेने में तकलीफ़ जैसे लक्षण दिखाई देते हैं जो जानलेवा हो सकते हैं. सामान्य से दिखने वाले लक्षणों की वजह से इस वायरस के संक्रमण का शुरुआती समय में पता लगा पाना भी मुश्किल है.

कोरोना वायरस के संक्रमण का पहला आधिकारिक मामला दिसम्बर 2019 में चीन के वुहान क्षेत्र में सामने आया था. चीन और दुनियाभर के डॉक्टर्स और वैज्ञानिक इस वायरस का इलाज ढूँढने की कोशिश में लगे हुए हैं लेकिन अभी तक किसी भी तरह के वैक्सीन की खोज नहीं हो पाई है.

यह भी पढ़ें: सेब से जुडी 15 रोचक बातें और 10 फायदे

Coronavirus के लक्षण क्या हैं?

Coronavirus Symptoms in Hindi

कोरोना वायरस के शुरुआती लक्षण बहुत ही सामान्य से होते हैं जो अंत में जाकर जानलेवा साबित होते हैं. इस वायरस के शुरुआती लक्षणों में खांसी, ज़ुकाम, नाक बहना, मांसपेशियों में दर्द, बुखार आना और सांस लेने में तकलीफ़ होना शामिल हैं

जैसे-जैसे कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता है तो मरीज़ को निमोनिया, सीवर एक्यूट, किडनी में ख़राबी, रेस्पिरेटरी सिंड्रोम, जैसी बीमारियाँ हो जाती है जो अंत में जान ले लेती हैं.

अब तक कोरोना वायरस के संक्रमण से निमोनिया के मरीज़ों के मामले सबसे अधिक सामने आए हैं. इस वायरस के लक्षण निमोनिया के लक्षणों से सबसे ज्यादा मिलते जुलते हैं.

कोरोना वायरस कैसे फैलता है?

कोरोना वायरस के बारे में अभी तक ज्यादा रिसर्च नहीं हुआ है लेकिन डॉक्टर्स के अनुसार इस वायरस का संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में बहुत तेजी से फैलता है.

भीड़ भरे इलाकों में इसका संक्रमण बहुत तेजी से फैलता है. यह वायरस संक्रमित व्यक्ति द्वारा सांस छोड़ने, खांसने, या छीकने से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. 

कोरोना वायरस के सी-फ़ूड और जानवरों के माँस खाने से फैलने की भी पुष्टि हुई है.

यह भी पढ़ें: Phobia kya hai? फोबिया के लक्षण और सभी फोबिया की A-Z लिस्ट

कोरोना वायरस का बचाव और उपचार क्या हैं?

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए अभी किसी भी तरह के टीके का विकास नहीं हुआ ह, डॉक्टर्स मरीज़ के लक्षणों के अनुसार ही उसका इलाज कर रहे हैं. चीन के वैज्ञानिक और दुनियाभर की विश्वविधालयों एवं फार्मा कम्पनियाँ इस वायरस के Vaccine की खोज में लगातार लगी हुई हैं.

स्वास्थ मंत्रालय ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए कुछ निर्देश जारी किए हैं. इन निर्देशों और अन्य डॉक्टर्स के अनुसार इस वायरस से बचने के प्रमुख तरीके नीचे दी गए हैं.

  • हाथों को बढ़िया साबुन या अल्कोहल आधारित हैण्ड रब से साफ़ करना चाहिए.
  • ज़ुकाम और बुखार से संक्रमित मरीज़ो के संपर्क में आने से बचना चाहिए.
  • ज्यादा भीड़ भरे इलाकों में जाने से बचना चाइए.
  • जिन देशों या हॉस्पिटल में कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं वहाँ की यात्रा नहीं करने के निर्देश दिए गए हैं.
  • खांसने या छीकने के लिए रूमाल या कुहनी का इस्तेमाल करें.
  • माँस या अंडे का सेवन अच्छी तरह से पकाने के बाद ही करें.
  • जंगली जानवरों या बीमार घरेलू पालतू जानवरों के संपर्क में आने से बचें.
  • किसी भी फल या सब्जी को अच्छी तरह से गरम पानी से धोने के बाद ही इस्तेमाल करें.
  • इस वायरस का सबसे ज्यादा प्रभाव चीन में देखने को मिला है इसलिए चीन की यात्रा का प्लान कैंसिल कर दें और चीन से लौटे यात्रियों के संपर्क में आने से अपना बचाव करें.
coronavirus precautions in hindi

कोरोना वायरस जैसे खतरनाक जानलेवा वायरस के संक्रमण से बचने के लिए हमें अत्यधिक सावधानी बरतने की जरूरत पड़ती है. इस तरीके के वायरस संक्रमण से दुनियाभर में अनेकों बार हज़ारों लोगों ने अपनी जान गँवाई है.

इस पोस्ट में हमने आपको कोरोना वायरस क्या है? कोरोना वायरस के लक्षण क्या हैं और इससे किस तरह अपना बचाव किया जा सकता है? इससे जुड़ी जानकारी दी है. अगर आपके मन में Coronavirus से जुड़ा कोई भी सवाल है तो आप कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं. 

इस पोस्ट को अपने दोस्तों और फैमिली के साथ शेयर करें जिससे उन्हें भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने में मदद मिले.


कोरोना वायरस के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

Coronavirus क्या है?

कोरोनाविरस एक विस्तृत वायरस परिवार है जो जानवरों या मनुष्यों में बीमारी का कारण हो सकता है। Coronavirus का सम्बन्ध एक ऐसी वायरस फैमिली से है जिसके संक्रमण द्वारा जुकाम और सांस संबंधी समस्या पैदा हो जाती है. इस वायरस से संक्रमण के बाद मरीज़ को निमोनिया होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं. WHO  के अनुसार इस वायरस के संक्रमण से बुखार, ज़ुकाम, खांसी, सांस लेने में तकलीफ़ जैसे लक्षण दिखाई देते हैं जो जानलेवा हो सकते हैं. इस समय सबसे ताजा कोरोना वायरस की वजह से ही दुनिया भर में COVID-19 महामारी फ़ैली हुई है.

COVID-19 क्या है?

COVID-19 सबसे हाल ही में खोजे गए कोरोनावायरस के कारण होने वाला संक्रामक रोग है. कोविड-19 के संक्रमण का पहला आधिकारिक मामला दिसम्बर 2019 में चीन के वुहान क्षेत्र में सामने आया था.

COVID-19 के लक्षण क्या हैं?

इस वायरस के शुरुआती लक्षणों में खांसी, ज़ुकाम, नाक बहना, मांसपेशियों में दर्द, बुखार आना और सांस लेने में तकलीफ़ होना शामिल हैं.  COVID-19 से संक्रमित व्यक्तियों में से 80% बिना किसी गंभीर बीमारी के ठीक हो जाते हैं. इस बीमारी में 6 में से केवल 1 व्यक्ति ही गंभीर रूप से बीमार होता है. वृद्ध लोगों, और उच्च रक्तचाप, हृदय की समस्याओं या मधुमेह जैसी अंतर्निहित चिकित्सा समस्याओं वाले लोगों में गंभीर बीमारी विकसित होने की अधिक संभावना है।

coronavirus symptoms, prevention
COVID-19 Symptoms

COVID-19 कैसे फैलता है?

COVID-19 का संक्रमण एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में फैलता है. यह वायरस संक्रमित व्यक्ति द्वारा सांस छोड़ने, खांसने, या छीकने से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. 
COVID-19 पर हुए अभी तक के रिसर्च के अनुसार यह हवा द्वारा नहीं फैलता है.

COVID-19 / कोरोना वायरस से कसे बचा जा सकता है?

– इस समय कोरोना वायरस से बचने के लिए पूरे देश में लॉक-डाउन (कर्फ्यू) जारी है. इस लॉकडाउन का पालन करें और घर पर ही रहें.
– हाथों को लगातार बढ़िया साबुन या अल्कोहल आधारित हैण्ड रब से साफ़ करना चाहिए.
– ज़ुकाम और बुखार से संक्रमित मरीज़ो के संपर्क में आने से बचना चाहिए.
ज्यादा भीड़ भरे इलाकों में जाने से बचना चाइए.
– खांसने या छीकने के लिए रूमाल या कुहनी का इस्तेमाल करें.
– आंखों, नाक और मुंह को छूने से बचें।
क्यों? 
हाथ कई सतहों को छूते हैं और वायरस उठा सकते हैं। 
एक बार दूषित होने पर, हाथ वायरस को आपकी आंखों, नाक या मुंह में स्थानांतरित कर सकते हैं। 
वहां से, वायरस आपके शरीर में प्रवेश कर सकता है और आपको बीमार कर सकता है।
– यदि आप अस्वस्थ महसूस करते हैं तो घर पर रहें। 
यदि आपको बुखार, खांसी और सांस लेने में कठिनाई है, तो सरकार द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करें। अपने स्थानीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के निर्देशों का पालन करें।

क्या एंटीबायोटिक्स COVID-19 को रोकने या उसका इलाज करने में कारगर हैं?

नहीं। एंटीबायोटिक्स वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं. COVID-19 वायरस के कारण होता है, इसलिए एंटीबायोटिक्स काम नहीं करते हैं।

क्या COVID-19 रोग को ठीक करने के लिए कोई दवा या थरेपी है?

नहीं। एंटीबायोटिक्स वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं. COVID-19 वायरस के अभी तक COVID-19 के इलाज के लिए किसी भी प्रकार की आधिकारिक दवाई या विधि का विकास नहीं हुआ है. भारत और अन्य देशों में डॉक्टर्स ने इसके कई मरीजो को लक्षणों के आधार पर इलाज करके पूरी तरह से ठीक किया है.
WHO के अनुसार इस बीमारी के लक्षण दिखाई देते ही किसी भी प्रकार की दवाई लेने की जगह पर तुरंत सरकार द्वारा नियत स्थानीय स्वास्थ निर्देशों का पालन करें और हेल्पलाइन से संपर्क करें.

क्या COVID-19 रोग का कोई टीका बना है?

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए अभी किसी भी तरह के टीके (Vaccine) का विकास नहीं हुआ ह, डॉक्टर्स मरीज़ के लक्षणों के अनुसार ही उसका इलाज कर रहे हैं. WHO और दुनियाभर की विश्वविधालयों एवं फार्मा कम्पनियाँ इस वायरस के टीके की खोज में लगातार लगी हुई हैं. एक बार टीके की खोज होने के बाद दुनियाभर की सरकारें Vaccination कार्यक्रम चलाएंगी.

भारत में कोरोना वायरस हेल्पलाइन नंबर क्या है?

भारत सरकार ने कोरोना वायरस के इलाज और इसे फैलने से रोकने के लिए कई हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं.
ज्यादा जानकारी के लिए भारत सरकार की वेबसाइट चेक करें.

coronavirus helpline number INDIA
Corona Virus Helpline Numbers India

Sources: World Health Organization | Govt. Of IndiaU.S. Centers for Disease Control and Prevention |  European Center for Disease Prevention and Control |  National Health Commission of the People’s Republic of China.

Tag: Coronavirus in World, coronavirus in India, cases of coronavirus in India, Coronavirus symptoms, Coronavirus prevention, coronavirus kya hai, etc..

यह भी पढ़ें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *