Advertisement

पीडीऍफ़ का फुल फॉर्म क्या है? PDF के फायदे और विशेषताएं

PDF full form: Portable Document Format

PDF का फुल फॉर्म Portable Document Format होता है, हिन्दी में PDF ka full form ‘वहनीय दस्तावेज स्वरुप’ होता है. PDF, डॉक्यूमेंट फाइल्स को इलेक्ट्रॉनिक स्वरुप में ट्रान्सफर करने का एक पॉपुलर फाइल फॉर्मेट है. पीडीऍफ़ फाइल एक्सटेंशन को एडोबी कंपनी ने 1990 में डेवेलप किया था.

इस पोस्ट में हम आपको PDF full form के साथ-साथ यह भी बताएंगे कि पीडीऍफ़ क्या होता है, पीडीऍफ़ का इतिहास क्या है, PDF बनाने और रीड करने के बेस्ट सॉफ्टवेयर क्या हैं.

PDF क्या है?

PDF एक फाइल एक्सटेंशन या फॉर्मेट है. यह किसी भी तरह के डाक्यूमेंट्स जैसे कि टेक्स्ट, इमेज, विडियो इत्यादि को एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस में इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में ट्रान्सफर करने में सहायक होता है. किसी भी डॉक्यूमेंट को हम पीडीऍफ़ में कन्वर्ट करके ईमेल या अन्य किसी तरीके से एक कंप्यूटर/मोबाइल से दूसरे कंप्यूटर में भेज सकते हैं. PDF फॉर्मेट में ट्रान्सफर किए गए डॉक्यूमेंट की क्वालिटी और स्वरुप में कोई बदलाव नहीं होता है.

Portable document format (PDF ka full form)
Adobe PDF Reader

PDF क्रिएट करने औए पीडीऍफ़ फाइल को रीड करने के लिए बाज़ार में कई सारे सॉफ्टवेयर या टूल उपलब्ध हैं. Adobe Acrobate और Adobe Reader दोनों ही प्रमुख पीडीऍफ़ टूल हैं.

PDF फाइल फॉर्मेट की विशेषताएं

  • पीडीऍफ़ फॉर्मेट डिवाइस इंडिपेंडेंट होता है. जिसका मतलब है कि चाहे कोई भी ऑपरेटिंग सिस्टम, डिवाइस या सॉफ्टवेयर हो एक पीडीऍफ़ फाइल हर जगह एक सामान ही रहती है.
  • पीडीऍफ़ फाइल को ट्रान्सफर करना बहुत सरल है. एक ही पीडीऍफ़ फाइल में बहुत सारा टेक्स्ट, इमेजेज, विडियो आदि को एक साथ दूसरे डिवाइस में ट्रान्सफर किया जा सकता है.
  • PDF एक सुरक्षित फॉर्मेट है. इसमें पासवर्ड और एन्क्रिप्शन की सहायता से किसी भी तरह के डॉक्यूमेंट को सुरक्षित रखा जा सकता है.

PDF का इतिहास

PDF फाइल फॉरमेट को शुरुआत में डॉक्यूमेंट एक्सचेंज करने के उद्देश्य से बनाया गया था. पीडीऍफ़ का प्रमुख उद्देश्य विभिन्न दस्तावेजों का कंटेंट और स्वरुप खोये बिना उन्हें एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में ट्रान्सफर करना था. 

Adobe कंपनी ने सन 1990 के समय में इसे डेवेलप किया था. 1993 में एडोबी ने पीडीऍफ़ का पहला वर्जन PDF 1.0 लांच किया था. तब से अब तक पीडीऍफ़ के कई नए वर्जन लांच हो चुके हैं. आज एडोबी के अलावा भी सैकड़ों कंपनी अनेक प्रकार के PDF रिलेटेड सॉफ्टवेयर और टूल का निर्माण करती हैं.

2008 में एडोबी ने एक पब्लिक पेटेंट लाइसेंस जारी करके PDF के निर्माण या वितरण को रॉयल्टी फ्री कर दिया. जिसके बाद PDF टेक्नोलॉजी को किसी भी कंपनी द्वारा कमर्शियल या पर्सनल काम में लिया जा सकता है.

PDF element, Wondershare PDF Converter, Foxit PhantomPDF, Adobe Acrobat, Microsoft Word, WPS office आदि सॉफ्टवेयर और एप्प की सहायता से PDF को क्रिएट, कन्वर्ट या रीड किया जा सकता है.


इस आर्टिकल में आपको PDF full form, Full form of PDF in Hindi, PDF ka full form क्या है, पीडीऍफ़ के उपयोग, पीडीऍफ़ का इतिहास, पीडीऍफ़ के टूल्स आदि के बारे में जानकारी दी गई है. अगर आपके पास इससे रिलेटेड कोई सवाल है तो आप कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हो.

अन्य फुल फॉर्म :

Advertisement
Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
Copyright Content.
Close